योगी सरकार ने दूसरे राज्यों में फंसे मजदूरों को वापस लाने को लेकर किया बड़ा फैसला

by vibha
0 comment

कोरोना वायरस के संक्रमण से निपटने के लिए पूरे देश भर में पीएम मोदी की तरफ से 3 मई तक लगाए गए लॉकडाउन के बीच अलग-अलग राज्यों में मजदूर अब तक फंसे हुए हैं. जानकारी के लिए बता दें कि ये प्रवासी मजदूर लगातार अपने घर वापस जाने की मांग कर रहे हैं. राजस्थान के कोटा में फंसे बच्चों को वापस लाए जाने के बाद से ही अब ये प्रवासी मजदूरों भी अपने राज्यों में भेजे जाने की मांग कर रहे है.

इसी सब को लेकर अब उत्तर प्रदेश की योगी सरकार दूसरे राज्यों में 14 दिन का क्वारनटीन पूरा कर चुके मजदूरों को वापस लाने की तैयारी कर रही है. जानकारी के लिए आपको बता दें कि प्रदेश सरकार दूसरे राज्यों में फंसे मजदूरों को चरणबद्ध तरीके से वापस लाएगी. योगी सरकार ने इसके लिए कार्य योजना बनाने को मंजूरी दे दी है. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शुक्रवार यानी की आज कोविड-19 पर हुई मीटिंग के बाद कहा कि एक कार्य योजना तैयार की जाए, जिसमें दूसरे राज्यों में फंसे हुए मजदूरों की चेकिंग और टेस्टिंग करने की योजना बने और फिर प्रदेश की सीमा में आने के बाद उत्तर प्रदेश सरकार उन मजदूरों को उनके जिलों तक अपनी बसों के माध्यम से पहुंचाएगी

आपको बता दें कि आजतक इस सिलसिले में एक खबर पहले ही कर चुका है. बताते चलें कि बसपा प्रमुख मायावती, सपा प्रमुख अखिलेश यादव सहित कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने कोटा से बच्चों को वापस लाए जाने के योगी सरकार के कदम की तारीफ की थी. साथ ही दूसरे राज्यों में फंसे मजदूरों को वापस लाए जाने की मांग की थी.

Related Posts